Best Furniture Business Ideas: फर्नीचर बिजनेस 2023 कैसे शुरू करें लागत प्रक्रिया मुनाफा पूरी जानकारी हिंदी में

फर्नीचर बिजनेस प्लान कैसे करें, फर्नीचर बनाने का उद्योग कैसे शुरू करें, फर्नीचर बिजनेस के प्रकार, लोकेशन का चयन करें, लागत, प्रक्रिया, मुनाफा, लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन, मार्केटिंग, मैनपावर संपूर्ण जानकारी हिंदी में

Hindi Business Ideas Join Now
Hindi Business Ideas Join Now

फर्नीचर बिजनेस कैसे शुरू करें- दोस्तों, जब भी हम मकान बनवाते हैं तो अपने सुरक्षा, सुख-सुविधाओं एवं अपने घर को सजाने के लिए जरूरत के अनुसार बहुत सारी वस्तुओं का इस्तेमाल करते है और इसमें फर्नीचर को भी प्रमुखता से उपयोग किया जाता है फर्नीचर हर घर की जरूरत होती है फर्नीचर का उपयोग हमारे भारत सहित पूरे विश्व में प्राचीन काल से होता चला आ रहा है।

ऐसे में अगर आपके अंदर फर्नीचर बनाने की कला है एवं निवेश की क्षमता रखते हैं और ईमानदारी एवं निष्ठा बिजनेस को बड़ी आसानी से कर सकते हैं यह बहुत ही प्रॉफिटेबल बिजनेस है आने वाले दिनों में इसकी डिमांड बढ़ती ही जाएगी तो आइए, इस बिजनेस आर्टिकल के माध्यम से जानते हैं कि फर्नीचर बिजनेस कैसे शुरू करें इस बिजनेस में लागत, बिजनेस प्लान, रॉ मटेरियल, लाभ, मैन पावर, मार्केटिंग आदि से सम्बन्धित सभी बातों का अध्ययन करते हैं।

होम पेज पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें

Table of Contents

फर्नीचर बिजनेस एक नजर में

बिजनेस का नामफर्नीचर बनाने का बिजनेस या फर्नीचर शॅाप
फर्नीचर रिलेटेड बिजनेस शुरू करने में लागत₹50000 से ₹500000 रूपये
फर्नीचर रिलेटेड बिजनेस शुरू करने में लाभ25 से 50%
जरूरी लाइसेंसआधार उद्योग, जीएसटी, पैनकार्ड, ट्रेडमार्क, लोकल अथारिटी से NOC
विद्युत रिक्वायरमेंट2-3 KW
बिजनेस के लिए मैनपावर4-5 कारीगर एवं हेल्पर
रिक्वायरमेंट एरिया1200-1500 वर्गफीट
लोकेशनशहर, बाजार, चौक चौराहा एवं भीड़भाड़ वाले एरिया और मेनरोड पर

मार्केट रिसर्च करके बिजनेस प्लान तैयार करें (Prepare a business plan by doing market research)

फर्नीचर का बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे ज्यादा आवश्यक है कि पहले बिजनेस प्लान बना लें क्योंकि बिना प्लानिंग के कोई भी बिजनेस सेक्सेज नहीं होता पहले अपने आसपास के क्षेत्र में यह पता कर लें कि आपके यहां कच्चा माल जैसे लकड़ी, लेदर, बांस, स्टील, आयरन एवं अन्य प्रोडक्ट जो फर्नीचर बनने में काम आता है उसकी उपलब्धता हमेशा पर्याप्त रहती है कौन-कौन सी मशीन और औजार फर्नीचर के बनाने में लगेंगे कुल कितनी लागत इस बिजनेस में आएगी कितने व्यक्तियों की आवश्यकता पड़ सकती है।

फर्नीचर अलग-अलग प्रकार की लकड़ी, प्लास्टिक, बांस, लोहा, स्टील आदि के माध्यम से अलग-अलग प्रकार के फर्नीचर बनाकर या  बना बनाया खरीद कर उन्हें मार्केट में बेचने को फर्नीचर का बिजनेस कहते है छोटे से छोटा मकान में या बड़े से बड़ा बिल्डिंग हो, शादियों में, ऑफिस में, अस्पताल में, स्कूल, कालेज आदि में निर्माण करते समय या निर्माण हो जाने के बाद सुरक्षा की दृष्टि से एवं सुख सुविधाओं की दृष्टि से तमाम प्रकार के फर्नीचर का प्रयोग किया जाता है जैसे दरवाजा, खिड़की, सोफा, कुर्सी, मेज, डाइनिंग सेट, वाडरूफ, किचन आदि का उपयोग किया जाता है इस बिजनेस से संबंधित सभी बातों का अध्ययन कर लें।

फर्नीचर बिजनेस के प्रकार (Type of furniture Business)

फर्नीचर बहुत तरह के मार्केट में उपलब्ध हैं सभी फर्नीचर की क्वालिटी मेकिंग प्रोसेस और रेट अलग-अलग होते हैं जरूरत एवं कीमत के अनुसार लोग खरीदना पसंद करते हैं।

लकड़ी (वुड) के फर्नीचर

हमारे भारत में प्राचीन काल से लकड़ी का फर्नीचर दरवाजे खिड़कियां आदि का इस्तेमाल होता आया है इसका प्रयोग सदियों से घर को सजाने एवं सुख सुविधाओं के लिए किया जाता है लकड़ी के फर्नीचर सुंदर आकर्षक और काफी मजबूत होते हैं लकड़ी के द्वारा सोफा बेड टेबल डाइनिंग टेबल अलमारी कुर्सी दरवाजा खिड़कियां एवं अन्य बहुत से आइटम बनाये जाते हैं फर्नीचर में लकड़ी के फर्नीचर की डिमांड मार्केट में सबसे अधिक होती है।

प्लास्टिक के फर्नीचर

पिछले कुछ सालों से प्लास्टिक के फर्नीचर की डिमांड भी बढ़ गई है इसका प्रमुख कारण है लकड़ी की कमी और काफी महंगा होना लकड़ी के मुकाबले प्लास्टिक के फर्नीचर सुंदर हल्के और कम कीमत के होते हैं इसको इधर-उधर करने में भी काफी आसानी होती है जिस कारण लोग इसको अधिक पसंद करते हैं इसमें आपको कुछ भी मैन्युफैक्चरिंग करना नहीं होता है इसको आप होलसेल मार्केट से खरीद कर कम लागत में फर्नीचर बिजनेस कर सकते है।

स्टील के फर्नीचर

आजकल स्टील के फर्नीचर की डिमांड ज्यादा है क्योंकि इसमें कभी जंग नहीं लगता है और यह बहुत मजबूत हल्के और सुंदर आकर्षक होते हैं और कीमत भी बहुत ज्यादा नहीं होती है इनका ज्यादातर प्रयोग घरों और आफिसों के सजावट के लिए रेलिंग, कुर्सी, मेज, रैक, सोफा, आलमारी, खिलाड़ी आदि बहुत से आइटम बनाए जा सकते हैं इस प्रकार स्टील के फर्नीचर बिजनेस बहुत लाभदायक हो सकता है।

बांस या बंबू के फर्नीचर

अगर आपके यहां बांस की उपलब्धता अधिक है तो आप बांस के फर्नीचर बिजनेस शुरू करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं बांस से सोफा, कुर्सी, मेज आदि कई तरह के फर्नीचर बनाए जाते हैं यह काफी हल्के और डेकोरेटिव होते हैं जिससे इनके रखरखाव में आसानी होती है जिससे बांस के फर्नीचर की डिमांड मार्केट में बहुत अधिक होती है।

लेदर के फर्नीचर

पिछले कुछ सालों से लेदर का प्रयोग काफी तेजी से पड़ा है वर्तमान समय में बहुत से लोग अपने ऑफिस और घरों को सजाने के लिए लेदर के बने फर्नीचर एवं बहुत से प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं क्योंकि यह देखने में काफी सुंदर और आकर्षक होते हैं अगर आप लेदर के फर्नीचर का व्यवसाय शुरू करते हैं तो आपके सफल होने के चांस अधिक हैं क्योंकि लेदर के फर्नीचर की डिमांड वर्तमान के साथ भविष्य में भी काफी अधिक होने वाली है ऐसी स्थिति में अगर आपके अंदर कला है तो लेदर के फर्नीचर बनाने का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

आयरन के फर्नीचर

आयरन के प्रयोग ज्यादातर घरों को सजाने के साथ साथ सुरक्षा के लिए भी प्रयोग किया जाता है आयरन से खिड़कियां, कुर्सी मेज, दरवाजे, गेट बनाने में एवं छतों, सीढ़ियों की रेलिंग बनाने में प्रयोग किया जाता है यह पूरी तरह से बनने के बाद काफी मजबूत, सुंदर और आकर्षक होते हैं लोहे के बने फर्नीचर का उपयोग गांव से लेकर बड़े-बड़े शहरों तक में किया जाता है क्योंकि इसका रॉ मटेरियल आसानी से हर जगह उपलब्ध होता है। ऐसी स्थिति में हर तरफ डिमांड को देखते हुए आयरन फर्नीचर बिजनेस शुरू करके अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं।

कील बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

फर्नीचर बिजनेस कैसे शुरू करें (How to start furniture business plan)

फर्नीचर का बिजनेस कई तरीकों से शुरु कर सकते हैं।

  1. पहला तरीका आप लकड़ी, प्लाई और अन्य कच्चा माल खरीद कर के स्वयं की मेन्यूफेक्चरिंग के द्वारा फर्नीचर बनाकर उससे दुकान में या शोरूम में रख कर बेचना।
  2. दूसरा तरीका आप मकान, दुकान, बिल्डिंग, स्कूल, कॉलेज आदि जगहों पर जाकर या साइड पर ही फर्नीचर बनाना और एवज में उचित मेहनताना लेना।
  3. तीसरा तरीका आप तैयार फर्नीचर को मेन्यूफैक्चरर से खरीद कर उसको शोरूम या दुकान में रखकर बेचना।

जगह एवं लोकेशन का चयन करें Select place and location-

फर्नीचर बिजनेस ऐसे लोकेशन पर शुरू करें जो शहर, बाजार, चौक चौराहा एवं भीड़भाड़ वाले एरिया और मेनरोड पर हो वहाँ पर एक दुकान और खुले एरिया की आवश्यकता होती है जहाँ आप लकड़ी, आयरन, स्टील, बांस, प्लाई बुड, सन माईक और अन्य मुख्य आइटम जिसको बड़ी मात्रा में स्टोर करके रख सके और खोलें जगह में निर्माण कार्य कर सकें।

ऐसे में फर्नीचर बनाने से सम्बन्धित कार्यों तथा मशीनों लकड़ी एवं अन्य कच्चे माल को रखने के लिए कुल मिलाकर कम से कम 1200 से 1500 वर्गफीट जगह की आवश्यकता पड सकती है मार्केट में एवं भीड़भाड़ वाले एरिया में और सड़क से सटे एरिया पर लगाएं जिससे कि वहाँ लोगों की आवाजाही अधिक हो और ट्रांसपोर्ट करने में भी आसानी हो।

बिजनेस में मैनपावर

अगर फर्नीचर बिजनेस कर रहे हैं तो कम से कम 4 से 5 व्यक्तियों की आवश्यकता होती है जो कटिंग करने, प्लेन करने, जोड़ने, डिजाइन बनाने, सनमाइका लगाने, पोलिस या पेंट आदि करके फर्नीचर तैयार कर सकें जिसमें कुल मिलाकर दो अनुभवी कारीगर और दो से तीन हेल्पर कारीगर की आवश्यकता पड सकती हैं।

मशीनें एवं उपकरण खरीदें Buy machines and equipment

फर्नीचर बनाने के लिए मशीनों का प्रयोग करके फर्नीचर का बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

वुड प्लेनर मशीन 3500 रूपये
वुड कटिंग मशीन 2500रूपये
राउटर मशीन 4000रूपये
ड्रिल मशीन 2000रूपये
ग्राइंडर मशीन3500रूपये
जिग्शॉ मशीन2400रूपये

इसके अलावा फर्नीचर बनाने में बहुत सारे छोटे बड़े औजार लगते हैं जो निम्नलिखित हैं।

  • हथौड़ी
  • आरी 
  • पेचकस 
  • पिलास 
  • गुनिया 
  • अलग अलग रुखान
  • इंच टेप

फर्नीचर बनाने की मशीन कहाँ मिलती है

फर्नीचर बिजनेस शुरू करने के लिए वुड प्लेनर मशीन, वुड कटिंग मशीन, राउटर मशीन, ग्राइंडर मशीन, ड्रिल मशीन, जिग्शॉ मशीन एवं अन्य उपकरण स्वयं जाकर अपने नजदीक के बड़े मार्केट से खरीद सकते हैं।

उपरोक्त सभी मशीन ऑनलाइन ई-कामर्स वेबसाइटों जैसे- INDIAMART या TRADEINDIA के माध्यम से संपर्क करके भी खरीद सकते हैं।

रॉ मैटेरियल की व्यवस्था करें Arrange raw materials

फर्नीचर बनाने के लिए सबसे सबसे महत्वपूर्ण है कि आप किस प्रमुख आइटम से फर्नीचर बना रहे हैं बांस, स्टील, आयरन, लेदर, लकड़ी आदि की सबसे ज्यादा आवश्यकता होती है अगर लकड़ी से फर्नीचर बना रहे हैं तो और उसको बनाने के प्लाईवुड, सन माईका, अलग अलग साइज का कील, फॉम, फेवीकोल, स्क्रू, पेंट, अन्य बहुत सारे आइटम आदि की आ सकता पडती है।

जरूरी लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन प्राप्त करें Licence And Registration

यह बिजनेस छोटे स्तर पर शुरू करने के लिए आपको किसी लाइसेंस की आवश्यकता नहीं पड़ती है बडे़ स्तर पर फर्नीचर शाॅप शुरू करने के लिए आपको कुछ निम्नलिखित लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता पड़ सकती है।

  • कंपनी रजिस्ट्रेशन या आधार उद्योग
  • जीएसटी
  • पैनकार्ड
  • ट्रेडमार्क
  • लोकल अथारिटी से NOC

फर्नीचर बिजनेस की मार्केटिंग करें Market your furniture business

अगर आप फर्नीचर बिजनेस शुरू कर रहे हैं तो आपको मार्केटिंग पर बहुत ही अधिक ध्यान देना होगा क्योंकि इस बिजनेस की डिमांड जितना ही अधिक है उतना ही इस बिजनेस में कंपटीशन भी अधिक है ऐसे में फर्नीचर बिजनेस की मार्केटिंग दो तरीके से कर सकते हैं।

ऑफलाइन मार्केटिंग

फर्नीचर बिजनेस में ऑफलाइन मार्केटिंग के लिए जरूरी है आप अपने प्रोडक्ट को यूनिक डिजाइन दार आकर्षक मजबूत और अच्छी क्वालिटी की बनाएं जिससे जब भी व्यक्ति को किसी फर्नीचर की आवश्यकता हो तो दोबारा आपके ही शॉप पर आए इसके अलावा अपने आसपास के क्षेत्रों में प्रचार प्रसार करने के लिए बैनर पोस्टर लगवा सकते हैं तथा आप अपने बिजनेस की विजिटिंग कार्ड भी बनवा सकते हैं।

ऑनलाइन मार्केटिंग

अगर आप फर्नीचर बिजनेस बड़े लेवल पर कर रहे हैं तो ऑनलाइन मार्केटिंग करने के के लिए निजी वेबसाइट बनाकर मार्केटिंग कर सकते हैं निजी वेबसाइट बनाने के बाद उस पर अपने बिजनेस और प्रोडक्ट से संबंधित सारी बातें डिजाइन, क्वालिटी, रेट डाल दें तो ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाइट INDIAMART माध्यम से मार्केटिंग कर सकते हैं एवं फेसबुक ग्रुप/पेज बनाकर मार्केटिंग कर सकते हैं यूट्यूब, गूगल पर विज्ञापन के माध्यम से प्रचार प्रसार करा सकते हैं।

फर्नीचर बिजनेस में लाभ Profit in furniture business

अगर आप किसी बड़े होलसेलर से या मैन्युफैक्चरर्स से खरीद कर शोरूम या दुकान में रख बेचने का बिजनेस कर सकते हैं तो आप लगभग 20 से 25% का लाभ कमा सकते हैं। अगर आपके पास फर्नीचर बनाने की कला है तो इस बिजनेस में लगभग 50% से अधिक लाभ कमा सकते हैं।

फर्नीचर बिजनेस में शुरू करने में खर्च कितना आएगा Cost to start a furniture business

इस बिजनेस को छोटे लेवल पर फर्नीचर मैन्युफैक्चरिंग शुरू करने के लिए आपको ₹40000 से ₹50000 की आवश्यकता पड़ेगी जिसमें आप मशीन और कुछ अन्य उपकरण के साथ लकड़ी, प्लाई एवं अन्य कच्चा माल खरीद सकते हैं।

बड़े लेबल पर आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप कितनी लागत के साथ शुरू कर रहे हैं लेकिन औसत ₹250000 से ₹300000  रूपये की आवश्यकता पड़ सकती है।

इसके अलावा आप फर्नीचर शॅाप शुरू करना चाहते हैं तो आपको और भी अधिक लागत की आवश्यकता पड़ेगी जिससे आप किसी बडे़ मैन्युफैक्चरर से बने बनाए फर्नीचर को जैसे बेड, सोफा, कुर्सी, मेज, स्टूल, डाइनिंग, श्रृंगारदान, अलमारी आदि खरीद कर कुछ प्रतिशत मुनाफे के साथ उसे बेच सकते हैं इसमें आपको ₹400000 से ₹500000 रूपये खर्च करने होगें।

निष्कर्ष Conclusion

फर्नीचर एक हाई डिमांडिंग प्रोडक्ट है इसकी जरूरत हमेशा लगती रहती है इस आर्टिकल से स्पष्ट है कि अगर आपके पास फर्नीचर बनाने की कला है तो आप फर्नीचर का बिजनेस कम से कम निवेश करके शुरू कर सकते हैं अगर आपके अंदर बनाने की कला नहीं है तो भी आप फर्नीचर का बिजनेस कर सकते हैं आप किसी बड़े में फर्नीचर मैन्युफैक्चरर से फर्नीचर खरीद कर आप अपने बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं हां इस तरह से बिजनेस करने के लिए आपको थोड़ा अधिक इन्वेस्टमेंट की आवश्यकता पड़ेगी.

फर्नीचर बिजनेस से सम्बन्धित प्रश्न (Frequently Asked Questions) 

Q1 फर्नीचर का बिजनेस में कितना लाभ होता है?

अगर आप किसी बड़े होलसेलर से या मैन्युफैक्चरर्स से खरीद कर शोरूम या दुकान में रख बेचने का बिजनेस कर सकते हैं तो आप लगभग 20 से 25% का लाभ कमा सकते हैं। अगर आपके पास फर्नीचर बनाने की कला है तो इस बिजनेस में लगभग 50% से अधिक लाभ कमा सकते हैं।

Q2 फर्नीचर की दुकान शुरू करने में कितने रूपये की आवश्यकता होती है?

छोटे लेवल पर फर्नीचर मैन्युफैक्चरिंग शुरू करने के लिए आपको ₹40000 से ₹50000 की आवश्यकता पड़ेगी जिसमें आप मशीन और कुछ अन्य उपकरण के साथ लकड़ी, प्लाई एवं अन्य कच्चा माल खरीद सकते हैं।
बड़े लेबल पर फर्नीचर का बिजनेस करने पर आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप कितनी लागत के साथ शुरू कर रहे हैं लेकिन औसत ₹250000 से ₹300000  रूपये की आवश्यकता पड़ सकती है।

Q3 फर्नीचर का बिजनेस क्या है?

फर्नीचर बिजनेस में फर्नीचर की तरह तरह की उत्पादों का निर्माण और बिक्रय आदि सेवाएं प्रदान की जाती है और एवज में उचित मेहनताना या कीमत लेना।

Q4 फर्नीचर का डिज़ाइन कैसे तैयार किया जाता है?

फर्नीचर का डिज़ाइन तैयार करने के विभिन्न तरीके हैं जैसे कि हैंड स्केचिंग, कागज़ पर डिज़ाइन बनाना, कैड डिज़ाइन सॉफ़्टवेयर का उपयोग या किसी विशेषज्ञ से डिजाइन तैयार कराना।

Q5 फर्नीचर का बिजनेस के लिए कौन कौन लाइसेंस की जरूरत पड़ती है?

1. कंपनी रजिस्ट्रेशन या आधार उद्योग
2. जीएसटी
3. ट्रेडमार्क
4. लोकल अथारिटी से NOC

Q6 फर्नीचर बिजनेस कितने तरीके से कर सकते हैं?

पहला तरीका मेन्यूफेक्चरिंग के द्वारा फर्नीचर बनाकर उससे दुकान में या शोरूम में रख कर बेचना।
दूसरा तरीका आप मकान, दुकान, बिल्डिंग, स्कूल, कॉलेज आदि जगहों पर जाकर या साइड पर ही फर्नीचर बनाना और उसके एवज में उचित मेहनताना लेना।
तीसरा तरीका फर्नीचर को मेन्यूफैक्चरर से खरीद कर उसे शोरूम या दुकान या शाॅप में रखकर बेचना।

Q7 फर्नीचर बिजनेस के लिए मशीन कहाँ मिलती है?

फर्नीचर बिजनेस शुरू करने के लिए वुड प्लेनर मशीन, वुड कटिंग मशीन, राउटर मशीन, ग्राइंडर मशीन, ड्रिल मशीन, जिग्शॉ मशीन एवं अन्य उपकरण स्वयं जाकर अपने नजदीक के बड़े मार्केट जैसे बनारस, दिल्ली, लखनऊ, अहमदाबाद, मुंबई, पुणे, जयपुर, चंडीगढ़ आदि से खरीद सकते हैं।
उपरोक्त सभी मशीन ऑनलाइन ई-कामर्स वेबसाइटों जैसे- INDIAMART या TRADEINDIA के माध्यम से संपर्क करके भी खरीद सकते हैं।

इन्हे भी पढ़े-

पूजा सामग्री का बिजनेस कैसे शुरू करें

कार्डबोर्ड बाक्स बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

नैपकिन पेपर बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

मैदा बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

दोस्तों हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण लेख फर्नीचर बिजनेस कैसे शुरू करें लागत प्रक्रिया मुनाफा सहित संपूर्ण जानकारी हिंदी में | Best Furniture Business Ideas In Hindi 2023 पसंद आया होगा यदि आपका इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं इस जानकारी को आगे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment