कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर कैसे शुरू करें सम्पूर्ण जानकारी हिन्दी में | Best business idea in 2023

[कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर या ट्रेनिंग इन्टीट्यूट कैसे शुरू करें, मार्केट रिसर्च, बिजनेस प्लान, लोकेशन, इंफ्रास्ट्रक्चर, ट्रेनिंग इन्टीट्यूट के लिए कोर्स, हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर, फ्रेंचाइजी रजिस्ट्रेशन एवं टेक्निकल युनिवर्सिटी से मान्यता कैसे प्राप्त करें, लाभ कैसे कमायें, मार्केटिंग कैसे करें, कुल कितना लागत लगेगा सम्पूर्ण जानकारी हिन्दी में प्राप्त करें]

Hindi Business Ideas Join Now
Hindi Business Ideas Join Now

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर कैसे शुरू करें- दोस्तों, आज का युग आधुनिकता का युग है और बिना कम्प्यूटर के आज के समय में कोई भी काम नहीं हो रहा है क्योंकि टेक्नालजी के क्षेत्र में बदलाव इतनी तेजी से होने लगा है कि आज के समय में छोटे से छोटा शाॅप या बड़ी से बड़ी कंपनी, सरकारी एवं प्राइवेट दफ्तर हर जगह कम्प्यूटर के द्वारा काम किया जा रहा है क्योंकि कम्प्यूटर से काम बिल्कुल आसानी से और बेहद कम समय में हो जाता है जिससे समय की बचत और काम का रिकॉर्ड भी आसानी से रखा जाता है अब यदि हमें बदलाव के साथ चलना है तो कंम्प्यूटर और टेक्नालजी का ज्ञान बेहद जरुरी है।

कंप्यूटर की इस महत्ता को देखते हुए भारत सरकार ने कंम्प्यूटर विषय को अनिवार्य कर दिया और अब स्कूलों में नियमित रूप से कंप्यूटर को पढ़ाया जाता है और इसके साथ ही जो लोग कम्प्यूटर के बारे में अच्छी नॉलेज रखते हैं वह लोग इस क्षेत्र में कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर चला रहे हैं यह लोग कंप्यूटर का ज्ञान और कम्प्यूटर चलाने की ट्रेनिंग और साथ में कोर्स का सर्टिफिकेट भी प्रोवाइड कराते हैं।

आज के समय में कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की डिमांड काफी बढ़ गई है क्योंकि स्कूलों में कंप्यूटर के बारे में सिर्फ बेसिक नॉलेज दिया जाता है जिससे स्टूडेंट व्यवहारिक तौर पर कंप्यूटर चलाने में असमर्थ होते है कंप्यूटर के बारे में अच्छी नॉलेज या कंप्यूटर कोर्स करने के लिए स्टुडेंट को कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में ही जाना पड़ता है ऐसे में अगर आप भी कंप्यूटर की अच्छी नाॅलेज के साथ इस क्षेत्र में रुचि के साथ इन्वेस्टमेंट की क्षमता रखते हैं तो आप भी कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट शुरू कर सकते हैं आइए इस लेख के माध्यम से समझने की कोशिश करते हैं कि कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर कैसे शुरू करें।

होमपेज पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें

Table of Contents

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर क्या हैं- What are computer training centers

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर जहां पर कई सारे कंप्यूटर रखे होते हैं और जहाँ कंप्यूटर के बहुत सारे कोर्स जैसे DCA, PGDCA, ADCA, CCC, Video editing में Premier pro, After Effects,Tally और Coding में PHP, HTML, CSS, C, C++ और Graphic Designing में Photoshop, Corel Draw, Illustrator आदि होते हैं स्टूडेंट अपने इच्छा और जरूरत के अनुसार कोर्स का चयन करते हैं संस्थान के प्रशिक्षक द्वारा स्टूडेंट को कंप्यूटर की बेसिक ज्ञान के साथ कोर्स से सम्बन्धित बातें बताता ट्रेनिंग कराता है उसके बाद कोर्स का सर्टिफिकेट भी प्रोवाइड कराते हैं और बदले में कोर्स के हिसाब से फीस चार्ज करते हैं।

मार्केट का रिसर्च करें- Market research

कोई भी बिजनेस शुरू करने के लिए मार्केट रिसर्च करना बहुत ही आवश्यक होता है क्योंकि बिना मार्केट रिसर्च के कोई भी बिजनेस फेल हो सकता है इसलिए जरूरी है कि कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर खोलने से पहले अपने आसपास के एरिया में मार्केट रिसर्च कर लें यह देख लें कि उस क्षेत्र में और कितने लोग ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट चला रहे हैं और उनके ट्रेनिंग सेंटर में क्या क्या सुविधाएं है कोर्स और फीस लेते है आदि सभी बातों का मार्केट रिसर्च करने के बाद आप अपने स्टूडेंट को अपने प्रतिद्वंदी से अधिक सुविधाओं दें जिससे कि स्टूडेंट आपकी ट्रेनिंग सेंटर पर आयें।

बिजनेस प्लान तैयार करें- Prepare a business plan

कंप्यूटर इंस्टिट्यूट या कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर चलाना सबके बस की बात नहीं है यह एक कठिन काम है क्योंकि कंप्यूटर एक मशीन है इसमें बहुत सारे सॉफ्टवेयर एंड हार्डवेयर होते हैं जिनकी जानकारी रखना सबके बस की बात नहीं है इसलिए ट्रेनिंग सेंटर के लिए जरूरी है कि पहले कंप्यूटर के बारे में स्वयं अच्छी जानकारी हासिल कर लें।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इन्टीट्यूट खोलने के लिए पहले पूरा प्लान बना लें क्योंकि बिना प्लान के कोई भी सफल नहीं हो सकता है प्लान आप अपने निवेश और एरिया के डिमांड के हिसाब से बनाएं कौन-कौन से कोर्स के प्रशिक्षण केंद्र पर चलाया जाएंगे उनकी फीस कितनी होगी कितना खर्च प्रशिक्षण सेंटर चलाने में आएगा आदि सभी बातों का अध्ययन अपने प्लान में कर लें।

अच्छे से लोकेशन और नाम का चयन करें- Select the best location

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर खोलने का मन बना लिए है तो उसे ऐसे लोकेशन पर खोलें जहां छात्रों की बराबर आवाजाही हो और छात्रा आसानी से आपके इंस्टिट्यूट तक पहुंच सके जैसे स्कूल, कॉलेज या ITI काॅलेज, कोचिंग सेंटर,शहर के मुख्य चौक या बाजार आदि के आस पास खोल सकते हैं जिससे अधिक छात्र आपकी कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के बारे में जान सकेंगे और इसमें एडमिशन ले सकें इसके अलावा कंप्यूटर इंस्टिट्यूट किसी ऐसी जगह ना खोलें जहां छात्रों को वहाँ पहुँचनें के लिए असुविधा और साधन का अभाव हो।

उसके बाद अगला चरण उसके नाम के चयन का आता है अपने इंस्टीट्यूट के लिए नाम कोई अच्छा और यूनिक हो जिसमें कंप्यूटर, टेक्नालजी, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर और वेब जैसे शब्दों का प्रयोग किया गया हो जो छात्रों को आसानी से समझ में आ जाए और इसके साथ ही उस नाम का ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन भी करवा लें इसके अलावा आप अपने इंस्टिट्यूट के नाम से एक निजी वेबसाइट बना दें जिससे उस नाम से कहीं भी कोई और संस्था ना खोलने पाए।

यह भी पढ़ेनोटबुक या काॅपी बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

इंफ्रास्ट्रक्चर और फर्नीचर की व्यवस्था करें- Arrange infrastructure and furniture

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर खोलने के लिए आपको लगभग 400 से 500 स्क्वायर फीट एरिया की आवश्यकता पड़ सकती है और वहाँ कंप्यूटर लैब में कम से कम 5 से 10 कंप्यूटर को सेट करने और छात्रों के बैठने की व्यवस्था हो, ऑफिस के लिए एवं क्लास रुम के लिए भी स्पेस चाहिए साथ में वहां उचित लाइटिंग का प्रबन्ध, ड्रिंकिंग वाटर, बाथरूम और टॉयलेट का उचित प्रबन्ध हो वह जगह स्वयं का हो या उपरोक्त बताए गए लोकेशन पर किराए का हो और पूरी तरह से बंद हो बाहर का आवाज और शोर-शराबा अंदर ना प्रवेश करें जिससे छात्रों का कंसंट्रेट बना रहे।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इन्टीट्यूट क्लास सही से संचालन करने के लिए अच्छी सुविधाओं में फर्नीचर भी बहुत प्रमुख स्थान रखता है ऑफिस, कंप्यूटर लैब, क्लासरूम आदि में बैठने के लिए फर्नीचर की उचित व्यवस्था होनी जरूरी है जिसके लिए संचालक को कम से कम 20 से 25 कुर्सियों बड़े-बड़े मेज की जरुरत पड़ सकती है अगर आपके पास बजट कम है तो आप मार्केट से सेकंड हैंड फर्नीचर खरीद कर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इन्टीट्यूट में किन कोर्स को शामिल करें- Which courses to include in computer training institute

सबसे पहले आप यह जान लें कि कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर के लिए अच्छे और मान्यता प्राप्त कोर्सेस का चुनाव अपने संस्थान के लिए करें जैसे टेक्निकल, प्रोफेशनल और एडवांस कोर्स श्रेणी के जिनमें कई अनेकों कोर्स देखने को मिलते हैं।

  • कंप्यूटर प्रोग्रामिंग कोर्स में जिनमें प्रोग्रामिंग भाषा जैसे C++, Oracle, Java, Visual Basic इत्यादि सिखाई जाती है।
  • प्रोफेसनल कोर्स में एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर जैसे Tally, Marg, BusyLs और ऑटोकैड, वेबसाइट डिजाइनिंग, पब्लिशिंग Animation इत्यादि कोर्स आते हैं।
  • एडवांस कोर्स में Assembling & Disassembling, CPU Repairing, Hardware and Networking DCH, DCN, ADHT, ADCHN इत्यादि कोर्स मोबाइल और लैपटाॅप की रिेपेयरिंग से सम्बन्धित कोर्स होते हैं।
  • कंप्यूटर ट्रेनिंग इन्टीट्यूट में अधिकतर कंप्यूटर कोर्स 6 महीने से एक साल तक के होते है जैसेः- PGDCA, ADCA, DCA, MS OFFICE, TALLY आदि ये कोर्स आपको सर्टिफिकेट, डिप्लोमा या एडवांस डिप्लोमा के रूप में कराये जाते हैं।

योग्य प्रशिक्षकों की नियुक्ति करें- Recruit qualified trainers

आपका कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर छोटा या बड़ा है उसके लिए आपको योग्य प्रशिक्षक रखने ही पड़ेंगे और जिन्हें कंप्यूटर के बारे में अधिकतम नॉलेज होना चाहिए जिनकी संख्या आपके इंस्टिट्यूट के साइज के ऊपर निर्भर करता है प्रशिक्षक कंप्यूटर से संबंधित निम्नलिखित कोर्स में से कौई न कोई कोर्स जरूर किये होने चाहिए।

  • प्रशिक्षक एक साल का कंप्यूटर डिप्लोमा हो जैसे की ADCA या PGDCA किया हो।
  • प्रशिक्षक कंप्यूटर कोर्स में Bsc.IT या MCA या BCA का डिग्री हासिल किया हो ।
  • या तो प्रशिक्षक दो साल का कंप्यूटर डिप्लोमा या O level का डिप्लोमा किया हो।

कंप्यूटर इंस्टिट्यूट के लिए फ्रेंचाइजी रजिस्ट्रेशन एवं मान्यता- Franchise registration and recognition

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर को चलाने के लिए फ्रेंचाइजी एवं मान्यता की नितांत आवश्यकता होती है बिना फ्रेंचाइजी और मान्यता के कंप्यूटर सेंटर नहीं चलाया जा सकता संचालक टेक्निकल डिग्री के कोर्स शुरू करने के लिए उसे किसी टेक्निकल यूनिवर्सिटी से मान्यता या एफ़िलिएशन लेना होगा, लेकिन अगर डिग्री या डिप्लोमा कोर्स का प्रशिक्षण देना चाहते हैं तो उसके लिए शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार में वैध डॉक्यूमेंट के साथ अप्लाई करके मान्यता प्राप्त कर कंप्यूटर ट्रेनिंग इन्टीट्यूट का संचालन कर सकता है अगर संचालक चाहता है तो वह ISO प्रमाणित भी करवा सकता है।

कंप्यूटर इंस्टिट्यूट खोलने के लिए योग्यता- Qualification to open computer institute

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर शुरू करने के लिए सबसे पहले जान लेना आवश्यक है कि कौन कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट शुरू कर सकता है तो हम आपको यह बता दें कि कंप्यूटर इंस्टिट्यूट कोई व्यक्ति विशेष नहीं शुरू कर सकता इसके लिए आपको पहले कई लोगों को शामिल कर ट्रस्ट या सोसाइटी बनानी होगी जिसको शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार में रजिस्टर्ड करके मान्यता प्राप्त कराना होगा

सरकार से मान्यता मिल जाने के बाद जिस चयन कोर्स के अनुसार अपने कंप्यूटर इंस्टिट्यूट को किसी बड़े टेक्निकल यूनिवर्सिटी से सम्बद्ध करना या फ्रेंचाइजी लेना होगा जिसके एवज में कुछ फीस टेक्निकल यूनिवर्सिटी को जमा करना होगा जिसके बाद आपके इंस्टिट्यूट पर कोर्स करने वाले स्टूडेंट को संबद्धता देने वाले टेक्निकल यूनिवर्सिटी का सर्टिफिकेट प्राप्त करा सकेंगे।

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की खरीदारी करें- Purchase hardware and software

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर खोलने के लिए कौन-कौन से वस्तुओं की जरूरी पड़ेगी तो आपको सबसे ज्यादा जरूरी कंप्यूटर सिस्टम की पड़ने वाली है जिनकी संख्या लगभग 5 से 10 होनी चाहिए उसके बाद वाईफाई या इंटरनेट की व्यवस्था, विद्युत सप्लाई, पंखा, एयर कंडीशनर, इनवर्टर और जनरेटर की व्यवस्था आदि की उचित व्यवस्था होना चाहिए।

कंप्यूटर खरीदने के बाद उन कंप्यूटर में आपके इंस्टिट्यूट पर चल रहे कोर्स के हिसाब से अलग-अलग तरह के सॉफ्टवेयर की जरूरत पड़ती है और एक बेसिक कम्प्यूटर में Tally, Java, MS Office, Orecal आदि सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के साथ ही आते हैं और कुछ को हम डाउनलोड करते हैं और कुछ के लिए पेमेंट करना पड़ता है।

इन सभी हार्डवेयर की खरीदारी आफलाइन आप अपने नजदीक के बड़े मार्केट से कर सकते हैं लेकिन ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं तो Amazon, flipcart, INDIAMART, TRADEINDIAआदि की वेबसाइट पर जाकर खरीद सकते हैं लेकिन खरीदते वक्त ध्यान रहे की प्रोडक्ट की क्वालिटी, उसकी क्षमता और गारंटी या वारंटी आदि पर विशेष ध्यान दें।

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर की मार्केटिंग करें- Marketing computer training center

आज के समय में किसी भी बिजनेस को शुरू करके उसकी मार्केटिंग ,प्रचार प्रसार करने का काम बहुत आसान हो गया है क्योंकि आजकल टेक्नोलॉजी और इंटरनेट, सोशल मीडिया आदि का जमाना है जिसने मार्केटिंग को बहुत आसान बना दिया कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट का निम्न तरीके से प्रचार प्रसार कर सकते हैं।

  • पहली बात यह कि जहां पर आपका कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट है वहाँ पर अच्छा सा आकर्षित करने वाला बोर्ड बनवायें जिस पर आपके इंस्टिट्यूट के नाम का स्पष्ट अक्षर मे लिखा होना चाहिए जिससे आपका इंस्टीट्यूट आसानी से पहचान में आ जाए।
  • अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर का पोस्टर और बैनर छपवाकर अपने क्षेत्र के सभी स्कूलों, कालेजों, चौक चौराहा, मार्केट में हर जगह पर लगवा दें जिससे छात्रों एवं इंटरेस्टेड लोगों की नजर पड़े।
  • और अधिक प्रचार प्रसार के लिए अपने लोकल के सभी अखबार एवं पत्रिकाओं में विज्ञापन छपवा सकते हैंऔर उसके साथ पंपलेट भी बांट सकते हैं।
  • उसके बाद फेसबुक, इंस्टाग्राम, टेलीग्राम ग्रुप, व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से भी ऑनलाइन तरीके से प्रचार-प्रसार कर सकते हैं।
  • इसके बाद में अपने इंस्टिट्यूट का यूट्यूब चैनल बनाकर और उस पर विडियो के माध्यम से तथा अपने इंस्टिट्यूट का निजी वेबसाइट बनाकर भी प्रचार प्रसार कर सकते हैं।

कंप्यूटर सेंटर में कितना लागत लगेगा- Computer institute in total investment

अगर बात करें कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर शुरू करने में आने वाले खर्च की तो छोटे स्तर से कंप्यूटर इंस्टिट्यूट शुरू करना चाहते है तो इसमें लगने वाली जरूरी वस्तुएं जैसे 4 से 5 कंप्यूटर सिस्टम, फर्नीचर, लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन का खर्च, मकान का किराया, पंखा, इनवर्टर, जनरेटर, लाइटिंग की व्यवस्था, एयर कंडीशनर मिलाकर दो से तीन लाख का खर्च आ सकता है। जैसे जैसे आप इसका स्वरूप बड़ा करेंगे वैसे से लागत भी बढ़ती जाएगी।

कंप्यूटर सेंटर के लिए लोन प्राप्त करें- Get loan for computer institute

अगर आप आर्थिक रूप से कमजोर है तो भी सरकारी योजनाओं के माध्यम से लोन के मदद से कंप्यूटर सेंटर शुरू कर सकते हैं प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना, प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना जैसे कईं ऋण योजनाएं है जहां आप 50000 से 1000000 रूपये तक का लोन आसानी से प्राप्त कर सकते हैं जिससे अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर आसानी से शुरू कर सकते हैं लोन प्राप्त करने के लिए आप सरकारी व प्राइवेट बैंक में जाकर लोन लेने के लिए बैंक मित्र से मिलकर जानकारी हासिल कर लें और सम्बन्धित बिजनेस का प्रोजेक्ट रिपोर्ट,लाइसेंस एवं अन्य कानूनी कागजात को पुरा कर लें उसके बाद अप्लाई करके लोन प्राप्त कर सकते हैं।

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर में लाभ कैसे कमायें- How to make profit in computer training center

कंप्यूटर ट्रेंनिंग सेंटर शुरू करते हैं लेकिन इसमें कमाई फिक्स नहीं होती है यह स्टूड़ेट की संख्या पर निर्भर करता है शुरू में कमाई कम हो सकती है लेकिन जैसे-जैसे आपका इंस्टिट्यूट पुराना होगा लोग क्षेत्र में जानने लगेंगे और आपके इंस्टिट्यूट पर जितना अधिक स्टूडेंट आएंगे उतना ही आपको लाभ होगा इसमें कमाई के लिए सभी इंस्टिट्यूट अलग-अलग कोर्स का अलग-अलग फीस चार्ज करते हैं जो स्टूडेंट को पसंद होता है वह उसी हिसाब से फीस जमा करके कोर्स को जॉइन करता है।

निष्कर्ष- Conclusion

कंप्यूटर ट्रेनिंग इन्टीट्यूट काफी डिमांडिंग बिजनेस है आपके अंदर कंप्यूटर इंस्टिट्यूट चलाने की योग्यता और अनुभव और निवेश की क्षमता है तो छोटे स्तर पर दो से तीन लाख का खर्च करके कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट शुरू करके आसानी से अच्छी कमाई कर सकते है।

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर से सम्बन्धित प्रश्न- Frequently asked questions

Q1 कंप्यूटर कोचिंग या ट्रेनिंग क्या है?

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर जहां पर कई सारे कंप्यूटर रखे होते हैं और जहाँ कंप्यूटर के बहुत सारे कोर्स जैसे DCA, PGDCA, ADCA, CCC, Video editing में Premier pro, After Effects,Tally और Coding में PHP, HTML, CSS, C, C++ और Graphic Designing में Photoshop, Corel Draw, Illustrator आदि होते हैं स्टूडेंट अपने इच्छा और जरूरत के अनुसार कोर्स का चयन करते हैं संस्थान के प्रशिक्षक द्वारा स्टूडेंट को कंप्यूटर की बेसिक ज्ञान के साथ कोर्स से सम्बन्धित बातें सिखाता है और ट्रेनिंग भी कराता है।

Q2 ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में कितनी लागत आती है?

अगर बात करें कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर शुरू करने में आने वाले खर्च की तो छोटे स्तर से कंप्यूटर इंस्टिट्यूट शुरू करना चाहते है तो इसमें लगने वाली जरूरी वस्तुएं जैसे 4 से 5 कंप्यूटर सिस्टम, फर्नीचर, लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन का खर्च, मकान का किराया, पंखा, इनवर्टर, जनरेटर, लाइटिंग की व्यवस्था, एयर कंडीशनर मिलाकर दो से तीन लाख का खर्च आ सकता है।

Q3 कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर खोलने के लिए कितनी योग्यता चाहिए?

प्रशिक्षक एक साल का कंप्यूटर डिप्लोमा हो जैसे की ADCA या PGDCA किया हो।
प्रशिक्षक कंप्यूटर कोर्स में Bsc.IT या MCA या BCA का डिग्री हासिल किया हो ।
या तो प्रशिक्षक दो साल का कंप्यूटर डिप्लोमा या O level का डिप्लोमा किया हो।

Q4 कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर में लाभ कैसे कमायें?

कंप्यूटर ट्रेनिंग इन्टीट्यूट शुरू करते हैं लेकिन इसमें कमाई फिक्स नहीं होती है यह स्टूड़ेट की संख्या पर निर्भर करता है।

Q5 छः महीने का कंप्यूटर कोर्स कौन सा है?

कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर में अधिकतर कंप्यूटर कोर्स 6 महीने से एक साल तक के होते है जैसेः- PGDCA, ADCA, DCA, MS OFFICE, TALLY आदि ये कोर्स आपको सर्टिफिकेट, डिप्लोमा या एडवांस डिप्लोमा के रूप में कराये जाते हैं।

यह भी पढ़ेंः-

हमारे द्वारा लिखा गया यह महत्वपूर्ण बिजनेस लेख कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर कैसे शुरू करें सम्पूर्ण जानकारी हिन्दी में | Best business idea in Hindi 2023 पसंद आया होगा यदि आपका इससे जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं ब्लाग पर समय देने के लिए धन्यवाद इस जानकारी को आगे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment